Wednesday, 17 October 2018

खेल

जो खेलते है दिलों से वो दिलदार नहीं होते..
मोहब्बत में सभी वफ़ादार नहीं होते...

Tuesday, 9 October 2018

हमारी जिंदगी

किसी के दिल में क्या छुपा है ये बस ख़ुदा ही जानता है,
अगर दिल बेनक़ाब होते तो सोचो कितना बवाल होता...

थी ख़ामोशी हमारी फितरत में तभी तो बरसो निभ गयी लोगो से,
अगर मुँह में हमारे जवाब होते तो सोचो कितना बवाल होता...

हम तो अच्छे थे पर लोगो की नज़र में सदा बुरे ही रहे,
कहीं हम सच में ख़राब होते तो सोचो कितना बवाल होता...

Thursday, 4 October 2018

एहसास

                                तुम्हारे प्यार का एहसास है मुझमें...
                                                                                   तुम्हारी दी हुई सौगात है मुझमें...
                    तुम साथ हो या नहीं लेकिन...
                                                            तुम्हारे साथ होने का एहसास है मुझमें...

Tuesday, 2 October 2018

गुमराह

                                                  इस क़दर प्यार कर मुझे मैं गुमराह हो जा...
                                                 तू कहे तो जि जाऊ तू कहे तो मर जाऊ...

Wednesday, 26 September 2018

निगाहें

जो निगाह-ए-नाज़ का बिस्मिल नहीं है...
                                                        वो दिल नहीं वो दिल नहीं...
जो शिद्दत-ए-इश्क के काबिल नहीं...
                                                   वो इश्क नहीं वो इश्क नहीं...

Wednesday, 29 August 2018

दीदार-ए-इश्क़



                                        उनसे कह दो दीदार-ए-इश्क़ न करे...
                                                                                          कहीं ऐसा न हो जूनून-ए-इश्क हो जाए...

Sunday, 29 July 2018

मोहब्बत

 मोहब्बत रूह से होती है जिस्म से नहीं...
 इबादत दिल से होती है मंदिर मस्जिद से नहीं...